KD NEWS LIVE

“आदमी मुसाफिर है, आता है जाता है” वरिष्ठ पत्रकार मिश्र की श्रधांजलि कार्यक्रम में जिलाउपाध्यक्ष के.डी शुक्ल ने दुःख व्यक्त करते हुए कही यह पंक्ति।

0 134

- Advertisement -

सुलतानपुर-“आदमी मुसाफिर है, आता है, जाता है।आते जाते रस्ते में, यादें छोड़ जाता है।”
यह गीत स्वर्गीय पंडित रामसुमिरन मिश्र (वरिष्ठ पत्रकार) पर सटीक बैठती है,आज उनके कार्यालय पर एक श्रधांजलि सभा आयोजन के दौरान के.डी न्यूज़ संपादक ने उक्त पंक्ति कही।

नेशनल यूनियन आफ जर्नलिस्ट उत्तर प्रदेश की सुलतानपुर इकाई के जिलाध्यक्ष सर्वेश सिंह महामंत्री जय शंकर दूबे व जिलाउपाध्यक्ष के.डी शुक्ल की अगुवाई में इस शोकसभा का आयोजन किया गया,आयोजन के दौरान शामिल लोंगो ने स्वर्गीय पंडित राम सुमिरन मिश्र के चित्र पर पुष्प अर्पित कर अपने श्रद्धासुमन अर्पित कर अपने विचार प्रस्तुत किए।

- Advertisement -

जिला अध्यक्ष सर्वेश सिंह ने पत्रकार राम सुमिरन मिश्र के आसामयिक निधन पर कहा कि भोर में मौत की खबर आते ही अचानक मैं उठकर बैठ गया मानो पैर के नीचे जमीन ही खिसक गई हो।ना कोई उनके शरीर मे रोग बस हसंते मुस्कराते दुनिया से विदा हो गए लेकिन पत्रकारिता जगत को उन्होंने जाते जाते झकझोर कर रख दिया हैं।

वही संगठन के महामंत्री जय शंकर दूबे (एडवोकेट) शोक संस्तृति परिवार को दृणशक्ति प्रदान करने की भोलेनाथ से प्रार्थना करते हुए उनके साथ बीते पल का जिक्र किया।

वही इस कार्यक्रम का आयोजन कर रहे संगठन के जिलाउपाध्यक्ष/कोषाध्यक्ष के.डी. शुक्ल ने श्रधांजली सभा मे स्वर्गीय पंडित रामसुमिरन मिश्र के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करते हुए असमय चले जाने पर दुःख जताया और याद साझा करते हुए कहा कि वह हमारे बड़े भाई जैसे और गुरु थे, अब मैं अपने आप को बहुत अकेला महसूस कर रहा हूं। आगे कहा कि गाने की यह पंक्ति “आदमी मुसाफिर है, आता है, जाता है।आते जाते रस्ते में, यादें छोड़ जाता है” सटीक बैठती हैं।
पत्रकार जेपी तिवारी ने स्वर्गीय राम सुमिरन मिश्र के रूप में अपने अग्रज को खोने का ग़म नहीं भूल पाते हुए अपने 23 वर्षों का समय विताने का वक्त लोगों के बीच साझा किया। मीडिया प्रभारी रवि दूबे ने कहा कि पत्रकारिता की शुरुआत जनपद में आते ही स्वर्गीय मिश्र के साथ ही शुरू की थी।जल्द ही एक संगठन बनाया गया था जिसमे स्वर्गीय मिश्र को संगठन का संरक्षक बनाया गया लेकिन वह अब बीच में नहीं रहे यह सुन कर हमको ही नही सबकी आंखें नम हो जा रही हैं ।
शोकसभा में सपा पार्टी के पूर्व चेयरमैन मानु भाई,
अपना दल (एस)के जिला अध्यक्ष अविनाश पटेल, सुहेल देव पार्टी के अमेठी व सुल्तानपुर के जिला अध्यक्ष सतीश मिश्र साथ ही आप पार्टी के जिलाध्यक्ष बृजेश प्रजापति ने चित्र पर पुष्प अर्पित कर अपनी याद साझा की।
शोकसभा के दौरान दो मिनट का मौन रखकर ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की गई।

इसी कड़ी में शोकसभा के दौरान जनमोर्चा के पत्रकार श्री प्रकाश पांडे, अवधेश गुप्ता,मनीष गुप्ता, बृजेश श्रीवास्तव,शवीह हसन रिजवी, लालजी, गोपाल पांडे, राहुल श्रीवास्तव, राजकुमार शर्मा, प्रेमचंद श्रीवास्तव, जितेंद्र पाल सिंह, ज्ञान प्रकाश मिश्र के अलावा जयकुमार पांडेय, सपा नेता मानू भाई, सौरभ सिंह, अनिल पांडे, त्रिभुवननाथ मिश्रा आत्माराम मिश्र,प्रमोद पाण्डेय, समेत तमाम शुभचिंतको के साथ पत्रकार साथियों ने पुष्प अर्पित कर अपनी संवेदना व्यक्त की।

क्या साथ लाये, क्या तोड़ आये
रस्ते में हम क्या-क्या छोड़ आये
मंजिल पे जा के याद आता है
आदमी मुसाफिर है…।