अमेठी-पर्यटन स्थल के पास बजबजाती है नालियां नही जाते सफाई कर्मचारी,गांव में गंदगियों के अंबार से गंभीर बीमारियों को पनपने का डर

अधिकारी और कर्मचारियों की लापरवाही के चलते ब्लॉक क्षेत्र के कुछ सफाई कर्मी भी मनमानी रवैया

0 180

- Advertisement -

अमेठी-पर्यटन स्थल के पास बजबजाती है नालियां नही जाते सफाई कर्मचारी,गांव में गंदगियों के अंबार से गंभीर बीमारियों को पनपने का डर

चंदन दुबे की रिपोर्ट

- Advertisement -

संग्रामपुर ब्लाक के अधिकारी और कर्मचारियों की लापरवाही के चलते ब्लॉक क्षेत्र के कुछ सफाई कर्मी भी मनमानी रवैया से काम करते नजर आ रहे हैं अटैचमेंट के खेल में गांव में गंदगियों का अंबार लगा हुआ है ज्यादातर सफाई कर्मचारी या तो ब्लॉक से अटैच है या फिर जिले पर तो कैसे हो गाँवो की सफाई यह एक बड़ा सवाल बनकर सामने आ रहा है हम आपको बता दें कि भौसिंहपुर, सोनारी कनू, पूरे कनू, शुकुलपुर, मुहिबशाह, बड़गाँव, सहजीपुर, के सफाईकर्मी गांव नही जाते इन गाँवो की सफाई राम भरोसे है बदबूदार नालियों से संक्रमित बीमारियां फैल रही है लेकिन सफाईकर्मी के ना होने के कारण इन गांवों में सफाई नहीं हो पा रही है

हम आपको बताते कि भौसिंहपुर ग्राम सभा में मां कालिका धाम स्थापित है जो कि एक पर्यटक स्थल भी है क्षेत्र के अधिकारी नेता सत्ता पक्ष के नेता मां कालिका धाम दर्शन करने आते रहते हैं लेकिन जिस प्रकार से कालिकन धाम में गंदगी का अंबार लगा हुआ है उससे यह जाहिर होता है कि कि जिले के अधिकारी कर्मचारी नेता ही नहीं चाहते कि कालिकन धाम और पर्यटक स्थल विकसित और स्वच्छ सुंदर हो जिन गांवों में सफाई कर्मी मौजूद भी हैं ज्यादातर प्रधान की घरों की सफाई करते नजर आते हैं गांव की नालियां बजबजा रही है बीमारियां फैल रही है लेकिन जनता की परेशानियों को देखने वाला कोई भी अधिकारी कर्मचारी सामने नहीं आ रहा है।