रायबरेली-नियम को ताख पर रख कोचिंग चला रहे कोचिंग संचालक

0 253

- Advertisement -

नियम को ताख पर रख कोचिंग चला रहे कोचिंग संचालक

रिपोर्ट- हिमांशु शुक्ला

- Advertisement -

रायबरेली : शिक्षा विभाग की ओर से प्रति छात्र नौ वर्ग मीटर का दायरा भले ही तय हो, लेकिन इन मानकों का शायद ही कोई पूरा कर रहा हो !डीआइओएस ने जब कोचिग सेंटरों का निरीक्षण किया तो पैर रखने तक की जगह नहीं मिली। साथ ही अग्निशमन यंत्र भी नहीं मिला। इस पर नाराजगी जताई। नियमानुसार व्यवस्था नहीं करने पर पंजीकरण निरस्त करने की चेतावनी भी दी।

  • जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ. चंद्रशेखर मालवीय ने कोचिग संस्थानों का निरीक्षण किया। आरपीएस कोचिग, सार्थक इंस्टीट्यूट और श्री गुरुदेव इंस्टीट्यूट कोचिग में कई खामियां मिली। अधिकांश जगह पर मानक के विपरीत छात्र बैठे मिले। वहीं रोशनी, बिजली तो कहीं पर सुरक्षा संयंत्र दुरुस्त नहीं मिला। इस पर नाराजगी जताई। सभी संचालकों को सप्ताह भर का अल्टीमेटम देते हुए व्यवस्था में सुधार करने के निर्देश दिए।डीआइओएस ने कहा कि किसी भी कीमत पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। चेतावनी के बाद भी यदि कोचिग संचालक सुधार नहीं करते हैं तो उनके पंजीकरण को निरस्त कर दिया गया।

    इनसेट-

  • कार्रवाई से बच रहे अफसर, सिर्फ खानापूरी
  • सूरत की घटना के बाद अफसरों की नींद तो टूटी, लेकिन अभी भी कार्रवाई हीलाहवाली करने में लगे हुए हैं। अग्निशमन विभाग की ओर से शहर के अधिकांश कोचिग सेंटरों की जांच की गई। खामियां भी मिली, लेकिन कार्रवाई कुछ नहीं हुआ। इसी तरह जिला विद्यालय निरीक्षक की जांच में भी मानक विहीन कोचिग संस्थान मिले। सिर्फ चेतावनी देकर छोड़ दिया गया।