अयोध्या-मलेथुकनक रेलवे स्टेशन का हैं बुराहाल,यात्रियों को नही मिल रहा है पानी

0 297

- Advertisement -

रिपोर्ट मनोज तिवारी 

केडी न्यूज़ चैनल अयोध्या 

- Advertisement -

 4 जून  2019 

कब सुधरेगी इस स्टेशन की दुर्दशा तमाम प्रतिनिधि आए और गए तमाम  प्रतिनिधि जो चुनाव में तो जनता की रहनुमाई करते हैं चुनाव जीतने के बाद जनता को भूल जाते हैं भी आ रहे हैं और जा रहे हैं कौन लेगा इस स्टेशन की सुधि

अयोध्या जनपद का एक ऐसा रेलवे स्टेशन जहां न किसी प्रकार के संसाधनों की सुविधा है और ना ही उसी स्टेशन का दर्जा ही मिला है एक व्यक्ति को ठेके पर रखकर टिकट वितरण कराया जाता है उसे यहां तक नहीं पता है कि कौन सी गाड़ी कब आएगी आइए देखें उस स्टेशन की एक झलक बीकापुर तहसील क्षेत्र का इकलौता माना जाने वाला

मलेथू कनक हाल्ट रेलवे स्टेशन पर पेयजल की व्यवस्था ना होने से यहां आने वाले यात्रियों, रेल कर्मियों और लोगों को तेज धूप और उमस में पेयजल की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। हाल्ट रेलवे स्टेशन पर तीन इंडिया मार्का हैंड पंप पेयजल के लिए लगाए गए जिसमें दो खराब पड़े हैं। तथा एक प्रदूषित पानी दे रहा है। मजबूरी बस लोगों को घर से बोतल में पानी लाना पड़ रहा है। क्षेत्र के जागरूक लोगों द्वारा हाल्ट रेलवे स्टेशन पर भीषण गर्मी में पेयजल की समुचित व्यवस्था किए जाने की मांग की गई है हमारे जिला संवाददाता मनोज तिवारी जब पड़ताल की तो  हकीकत सामने आ गई बीकापुर तहसील परिसर से 1 किलोमीटर दूर मलेदूर कनक रेलवे स्टेशन की हाल पूरी तरह बदहाल है

 क्या कहते हैं यात्रीगण राजू पांडे

 जब प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की सरकार थी उस समय फैजाबाद जनपद के सांसद डॉ निर्मल खत्री हुआ करते थे उन्होंने इस मामले को लोकसभा में उठाया और सरजू एक्सप्रेस का ठहराव करवाने का जो जनता से वादा किया था उसको पूरा किया सुबह सरजू एक्सप्रेस इस मलेथू कनक स्टेशन पर 1:30 मिनट के लिए रूकती है इसके अलावा पानी के लिए बैठने के लिए तीन सेट हो गए रा पूरी तरह से धराशाई हैं लोगों को पानी पीने के लिए किलोमीटर का चक्कर लगाना पड़ता है काजू तिवारी का कहना है कि यहां किसी भी प्रकार की कोई सुविधा नहीं है जब किए तहसील का मुख्य रेलवे स्टेशन है ज्ञातव्य हो कि यह रेलवे स्टेशन ठेके पर चल रहा है

 ठेकेदार दयाशंकर मिश्रा का कहना है कि तीन-चार पैसेंजर तथा सरजू एक्सप्रेस इस स्टेशन से होकर गुजरती हैं उनका बताना है कि 300 से ₹400 तक की टिकट की बिक्री होती है जिसमें मुझे मात्र 10% दिया जाता है और दिन भर गेट खोलना गेट बंद करना आम बात हो गई है