अमेठी।मतगणना को लेकर जिलाधिकारी ने की राजनैतिक दलो/ प्रत्याशियों के साथ बैठक

0 156

- Advertisement -

अमेठी।मतगणना को लेकर जिलाधिकारी ने की राजनैतिक दलो/ प्रत्याशियों के साथ बैठक

चंदन दुबे की रिपोर्ट

- Advertisement -

मतगणना स्थल पर मोबाइल,कैमरा, आईपैड,लैपटॉप, पेनड्राइव,पान मसाला, आदि सभी चीजें पूर्णतया प्रतिबंधित रहेंगी-जिलाधिकारी

जिला निर्वाचन अधिकारी डा. राम मनोहर मिश्र की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार मे 23 मई को होने वाली मतगणना के संबंध में आवश्यक बैठक आयोजित की गई।

बैठक को संबोधित करते हुए निर्वाचन अधिकारी ने राजनैतिक दलों/प्रत्याशियों को आवश्यक निर्देश देते हुए कहा कि मतगणना का कार्य निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण वातावरण में सम्पन्न कराने के लिए भारत निर्वाचन आयोग के नियमों का अक्षरश: पालन किया जाय। ईटीपीबीएस की गिनती समाप्त होने के उपरान्त कर्मियों से प्राप्त पोस्टल बैलेट पेपर की मतगणना की जायेगी।पोस्टल बैलेट की गिनती प्रारम्भ होने के आधे घंटे के बाद ईवीएम से मतों की गणना प्रारम्भ की जायेगी।ईवीएम के मतों की गणना का अंतिम चक्र पोस्टल बैलेट गणना पूर्ण होने के उपरान्त ही की जायेगी।भारत निर्वाचन आयोग के गाइड लाइन के अनुसार नियमों को सख्ति से पालन का निर्देश देते हुए जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि मतगणना केन्द्र के अन्दर कोई भी एजेंट, मतगणना कर्मी, पदाधिकारी,मोबाइल, कैमरा,आईपैड, लैपटॉप,पेन ड्राइव, पान मसाला,बीडी़ इत्यादि सामग्री ले जाने पर पूर्णतः प्रतिबंध रहेगा।मतगणना के दिन मतगणना केन्द्र से 200 मीटर दूर वाहनों को रखने का निर्देश दिया गया।उन्होंने कहा कि मतगणना अभिकर्ता को आवंटित मेज के सामने ही रहना होगा।उसे पूरे हॉल में चलने फिरने की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने सभी राजनीतिक दल/प्रत्याशियों को निर्देशित करते हुए कहा कि वह अपने-अपने मतदान अभिकर्ता के पास बनवा लें ताकि मतगणना के दिन किसी भी प्रकार की समस्या का सामना ना करना पड़े तथा अपने अपने मतदान अभिकर्ता को अपने साथ वोटर आईडी जरूर रखने को कहें। मतगणना अभिकर्ता को मतगणना प्रक्रिया के दौरान मतगणना हॉल से बाहर जाने की अनुमति नहीं होगी। मतगणना दिवस को पूरे जिले में धारा 144 रहेगा, जिसके तहत विजय जुलूश निकलना, आतिशवाजी करना, शस्त्र प्रदर्शन , अन्य प्रत्याषियों के विरूद्ध आपत्तिजनक नारे लगाना अथवा आपत्तिजनक भाषण देना अथवा ऐसी कोई कार्रवाई करना जिससे शांति व्यवस्था भंग होने का खतरा होने पर तत्काल प्रभाव से कार्रवाही की जायेगी।

बैठक में पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार, मुख्य विकास अधिकारी प्रभुनाथ, अपर जिलाधिकारी वंदिता श्रीवास्तव, अपर जिलाधिकारी न्यायिक,रश्मि सिंह, समस्त उपजिलाधिकारी/तहसीलदार सहित राजनीतिक दल-प्रत्याशी उपस्थित रहे।