अमेठी।मतगणना कार्मिकों का प्रथम प्रशिक्षण कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न

0 113

- Advertisement -

अमेठी।मतगणना कार्मिकों का प्रथम प्रशिक्षण कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न

मतगणना स्थल पर मोबाइल, कैमरा, आईपैड, लैपटॉप, पेनड्राइव, पान मसाला व माचिस आदि पूर्णरूप से प्रतिबन्धित होगा-सीडीओ

- Advertisement -

04 गणना सुपरवाइजर व 07 गणना सहायक रहे अनुपस्थित

जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी डा. राम मनोहर मिश्र ने भारत निर्वाचन आयोग से प्राप्त दिशा निर्देश के क्रम में लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2019 की मतगणना 23 मई को पूर्वान्ह 08 बजे से मनीषी महिला महाविद्यालय व इंदिरा गांधी पीजी कालेज गौरीगंज में अमेठी , तिलोई, गौरीगंज एवं जगदीशपुर विधान सभा क्षेत्रों की सम्पन्न करायी जायेगी। निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण मतगणना कार्य विधान सभावार पृथक-पृथक पंडालों में लगायी गयी 14 टेबुलों पर सम्पन्न की जायेगी। प्रत्येक टेबल पर चार मतगणना कार्मिक रहेंगे, जिसमें मतगणना माइक्रो आब्जर्वर, मतगणना पर्यवेक्षक, मतगणना सहायक, एक चतुर्थ श्रेणी कार्मिक तैनात होंगे। मतगणना स्थल में मोबाइल, कैमरा, आईपैड, लैपटॉप, पेनड्राइव, पान मसाला व माचिस आदि पूर्णरूप से प्रतिबन्धित होगा।

मुख्य विकास अधिकारी/नोडल-प्रभारी अधिकारी(म0का0) प्रभुनाथ ने आज कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित मतगणना कार्मिकों के प्रथम प्रशिक्षण के प्रथम दिवस में प्रशिक्षणार्थियों से कहा कि मतगणना कार्य के लिये सभी को पूर्णरूप से प्रत्येक बिन्दुओं पर सम्यक जानकारी लिया जाना परम आवश्यक है। यदि जानकारी का अभाव रहा तो मतगणना कार्य प्रभावित हो सकता है। उन्होंने कहा कि मतगणना प्रशिक्षण बहुत ही अच्छे ढंग से लें, ताकि मतगणना के दौरान किसी प्रकार की कठिनाईयों का सामना न करना पड़े। मतगणना स्थल में मोबाइल, कैमरा, आईपैड, लैपटॉप, पेनड्राइव,पान मसाला व माचिस आदि पूर्णरूप से प्रतिबन्धित होगा।

प्रशिक्षण के दौरान उन्होंने कहा कि मतगणना के दिन पोस्टल बैलेट की गणना पहले की जायेगी, उसके उपरान्त ईवीएम की गणना प्रारम्भ होगी। उन्होंने बताया कि प्रत्येक पोस्टल बैलेट मतगणना टेबल पर एक माइक्रो आब्जर्वर रहेंगे। सर्वप्रथम पोस्टल बैलेट की गणना निर्वाचन अधिकारी की टेबुल पर एक सहायक निर्वाचन अधिकारी द्वारा निर्वाचन अधिकारी एवं प्रेक्षक के सघन पर्यवेक्षण में की जायेगी। उन्होंने मतगणना की सभी बारीकियों के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्रत्येक विधान सभा में 14 टेबल पर मतगणना कार्य, 02 टेबल पोस्टल वैलेट के लिए, 02 टेबल संकलन कर्ता के लिए तथा एक टेबल सहायक निर्वाचन अधिकारी के लिये लगायी जायेगी। मतगणना टेबल पर एक माइक्रो आब्जर्वर, एक मतगणना पर्यवेक्षक, एक मतगणना सहायक व एक चतुर्थ श्रेणी कर्मी तैनात होंगे प्रशिक्षण में सी0यू0 (कन्ट्रोल यूनिट) के विषय में विभिन्न जानकारियां दी गई। उन्होंने बताया कि मतगणना के उपरान्त प्रारूप 17 सी भाग दो प्रत्येक टेबल कार्मियों को भर कर अपने सहायक निर्वाचन अधिकारी के टेबल पर प्रस्तुत की जायेगी। उन्होंने बताया कि मतगणना सुपरवाइजर की टेबल के सामने निर्धारित स्थल पर अधिकृत गणना एजेण्टों, जिनके पास पहचान पत्र रहेंगे। मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय दलों के अभिकर्ता, मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के अभिकर्ता, मान्यता प्राप्त अन्य दलों के अभिकर्ता, जिन्हें आयोग द्वारा प्रतीक चिन्ह आराक्षित किया है। प्रशिक्षण में बताया गया कि पंजीकृत अन्य दलों के अभिकर्ता, निर्दलीय उम्मीदवारों के अभिकर्ता रहेंगे। उन्होंने बताया कि मतगणना सुपरवाइजर कन्ट्रोल यूनिट कैरिंग बाक्स की सील गणना एजेण्टों को दिखाने उपरान्त ही बाक्स खोलेंगे तथा कन्ट्रोल यूनिट के परिणाम खण्ड/रिजल्ट सेक्शन को खोलने से पूर्व उस पर लगी सील उम्मीदवारों/गणना एजेण्टों को दिखाने के उपरान्त परिणाम खण्ड खोलेंगे।
प्रशिक्षण में परिणाम खण्ड खोलने के बाद रिजल्ट बटन के ऊपर लगी सील उम्मीदवारों/गणना एजेण्टों को दिखाने के उपरान्त ही रिजल्ट बटन दबायेंगे। उम्मीदवारों/गणना एजेण्टों की संतुष्टी के उपरान्त कन्ट्रोल यूनिट के पृष्ठ भाग में स्थित पावर स्विच ऑन करेंगे तथा परिणाम बटन दबाकर उम्मीदवारों के रिकार्ड मतों की संख्या के परिणाम प्राप्त करेंगे। उन्होंने बताया कि वैध मतों की गणना की जायेगी तथा उनका रिजल्ट फार्म-20 पर अंकित होगा। सभी वैध तथा अवैध पोस्टल बैलेट अलग-अलग बण्डलों में बांधकर आरओ द्वारा सील कराया जायेगा। पोस्टल बैलेट की गणना व ईवीएम की गणना पूर्ण करने के उपरान्त ही फाइनल की घोषणा की जायेगी। उन्होंने बताया कि प्रत्येक विधान सभा में पॉच-पॉच वीवी पैट की पर्चियों का मिलान किया जायेगा। प्रशिक्षण में प्रोजेक्टर के माध्यम से प्रशिक्षणार्थियों को मतगणना सम्बन्धी विभिन्न बिन्दुओं की जानकारी दी गयी।

इस मौके पर अपर जिलाधिकारी वंदिता श्रीवास्तव, जिला विकास अधिकारी बंशीधर सरोज, माइक्रो आब्जर्वर, मतगणना पर्यवेक्षक, मतगणना सहायक व चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी (344 मतगणना कार्मिक) तीनों पालियों में उपस्थित रहे।