अमेठी।देश व प्रदेश में सरकार होते हुए भी अमेठी का विकास नही करा पायी स्मृति ईरानी -अदिति सिंह

0 191

- Advertisement -

अमेठी।देश व प्रदेश में सरकार होते हुए भी अमेठी का विकास नही करा पायी स्मृति ईरानी -अदिति सिंह

चंदन दुबे की रिपोर्ट

- Advertisement -

आज प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए सुश्री अदिति सिंह विधायक,सदर रायबरेली ने स्मृति ईरानी पर तीखा हमला करते हुए कहती हैं कि कैग द्वारा जारी रिपोर्ट नं 4 के अनुसार स्मृति ईरानी राज्यसभा सांसद रहते हुए भाजपा कार्यकर्ता की कोऑपरेटिव सोसाइटी के माध्यम से अपने सांसद क्षेत्रीय विकास निधि के दुरुपयोग का दोषी पाया है।

सिंह ने कहा कि कैग द्वारा जारी रिपोर्ट में साफ तौर पर यह कहा गया है कि स्मृति ईरानी ने सांसद निधि की गाईड लाइन को नजरअंदाज करते हुए रू. 5.93 करोड़ की निधि का दुरुपयोग करते हुए बिना किसी टेन्डर प्रकिया के भाजपा कार्यकर्ता की कोऑपरेटिव सोसाइटी के माध्यम फ्रॉड किया गया।साथ ही कैग रिपोर्ट के अनुसार गुजरात के आणंद जिले में भी ग्रामीण क्षेत्र के विकास के नाम पर भी रु. 84.53 लाख का फ्रॉड उजागर हुआ है।मंत्रालय के दिशा निर्देश को नजरअंदाज करते हुए सारे काम शारदा मजदूर मण्डली के माध्यम से रु. 45.20 लाख पंचायत भवन की मरम्मत के लिए खर्च किये गए। काफी निधि शमशान घाट,स्कूल्स और अन्य निर्माण कार्यो पर खर्च दिखाया गया।परन्तु रिपोर्ट में यह खुलासा किया गया है कि वास्तव में जाँच के दौरान उन स्थलों से एक ईंट भी नही पायी गयी और जो भी भुगतान संस्था को किये गए उनका कोई भी रिकॉर्ड न तो ग्राम सभा के पास न ही नगर पालिका के पास पाया गया।इस बात का जिक्र उस समय के जिला कलेक्टर ने अपनी रिपोर्ट में भी किया है।

अदिति सिंह ने स्मृति ईरानी के 2004 और 2014 के नामांकन के दौरान दाखिल किए गए हलफनामे में दर्ज उनकी शिक्षा के मुद्दे को भी उठाया कि जब उन्होंने 2004 के चुनाव में दाखिल हलफनामे में यह दर्ज किया कि सन 1996 में दिल्ली विश्वविद्यालय के पत्राचार माध्यम से बी. ए. किया था तो 2014 के चुनाव के हलफनामे में उन्होंने 1994 में दिल्ली विश्वविद्यालय के ओपन यूनिवर्सिटी से बी. कॉम 1st ईयर कर रखा है।यह विसंगति उनकी शिक्षा को लेकर क्यों है। अमेठी की जनता से आखिर कब तक झूठ बोलती रहेंगी।