सुलतानपुर-डीएम द्वारा दो गोवंश आश्रय/कांजी हाउस का औचक निरीक्षण।

0 537

- Advertisement -

डीएम द्वारा दो गोवंश आश्रय/कांजी हाउस का औचक निरीक्षण।
गोवंशों के लिये पर्याप्त मात्रा में भूषा, हरा चारा, पानी आदि की व्यवस्था के साथ-साथ उन्हें प्रतिदिन नहलाया जाये-डीएम।


सुलतानपुर 04 अप्रैल, जिलाधिकारी दिव्य प्रकाश गिरि ने आज तहसील जयसिंहपुर के अन्तर्गत ग्राम पंचायत पीढ़ी व दियरा बाजार स्थित गोवंश आश्रय/कांजी हाउस का औचक निरीक्षण किया। ग्राम पंचायत पीढ़ी बगीचे में स्थित गोवंश आश्रय मंे 41 गोवंश पाये गये, जहां गोवंशों के लिये पेयजल की व्यवस्था हेतु मात्र एक छोटा हैण्डपम्प स्थापित मिला तथा गोवंशों के लिये छाया की व्यवस्था भी तक न कराये जाने पर खण्ड विकास अधिकारी जयसिंहपुर इन्द्रावती वर्मा व ग्राम सचिव अमित सिंह को कड़ी फटकार लगाते हुए तत्काल मोटर लगवाये जाने व छाया हेतु फूस/सीमेन्ट शेड एवं गोवंशों को पानी/चारा हेतु हौदी बनाये जाने का निर्देश जिलाधिकारी ने दिये। उन्होंने बीडीओ को निर्देशित कि इस आश्रय के चारो ओर बाॅस-बल्लियां लगाये जायें, ताकि गोवंश बाहर न निकल पायें। डीएम ने खण्ड विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि गोवंशों के लिये पर्याप्त मात्रा में भूषा, हरा चारा, चूनी-चोकर आदि नियमित रूप से दिये जायें तथा गर्मी को देखते हुए गोवंशों को नियमित नहलाने की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाये।
जिलाधिकारी श्री गिरि ने इसके पश्चात गोवंश आश्रय/कांजी हाउस दियरा बाजार का औचक निरीक्षण किया, जहां 20 गोवंश मौके पर पाये गये। यह कांजी हाउस जिला पंचायत द्वारा संचालित है। यहां पशुओं को खिलाने के लिये हौदियां बनायी गयी हैं, जिसमें गोवंश चारा खाते हुए पाये गये। यह गोवंश आश्रय भवन में चल रहा है तथा पीछे साइड में गोवंशों को रहने के लिये सीमेन्ट सीट लगाकर अच्छा छाजन किया है तथा गोवंशों का रख रखाव ठीक ढंग से हो रहा है। जिलाधिकारी ने मौके पर पाया कि यहां समर सेबुल लगारकर पानी की टंकी भी बनायी गयी है। उन्होंने मौके पर उपस्थित कर्मियों को निर्देशित किया कि जिला पंचायत से पाइप मंगवा कर प्रतिदिन गोवंशों को नहलाया जाये एवं नियमित रूप से उन्हें चारा पानी दिये जायें।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी (प्रशा0) हर्ष देव पाण्डेय, उप जिलाधिकारी जयसिंहपुर राम अवतार, अपर उप जिलाधिकारी सदर विधेश, प्र0जिला सूचना अधिकारी, के0एस0मौर्य सहित क्षेत्र के ग्राम प्रधान व अन्य उपस्थित रहे।

- Advertisement -