बाराबंकी-मोदी के आगमन से ठीक पहले यह क्या हुआ ? दलितों ने छोड़ दी भाजपा

0 359

- Advertisement -

मोदी के आगमन से ठीक पहले यह क्या हुआ ? दलितों ने छोड़ दी भाजपा

- Advertisement -

पूरे देश में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह अपने समर्थन में मतदाताओं के होने की अपील कर रहे हैं मगर बाराबंकी में प्रधानमन्त्री मोदी के आगमन से ठीक पहले उनके के अभियान को झटका लगा है | यहाँ दलितों ने पार्टी को तिलांजलि दे दी है | यह वह दलित है जो पिछले पंद्रह सालों से भाजपा की सेवा कर रहे थे और संगठन की जिला इकाई में महत्वपूर्ण पद पर आसीन थे | भाजपा के इन दलित नेताओं का पार्टी छोड़ना बड़ी घटना मानी जा रही है |

बाराबंकी में भाजपा की जिला इकाई में कार कर पार्टी को तिलांजलि देने वाले मुख्य नेता हैं जिला मंत्री अनिल रावत और महिला नेत्री और जिला मंत्री पद पर आसीन निर्मला रावत हैं | यह नेता पार्टी छोड़ने का कारण अपना अपमान होना बता रहे हैं | इन नेताओं ने आरोप लगाया कि वह पिछले पंद्रह सालों से पार्टी की सेवा कर रहें हैं लेकिन उन्हें आज तक पार्टी ने सम्मान नहीं दिया , हमेशा से उनका दलित होने के नाते अपमान होता रहा |

पार्टी छोड़ने वाले दलित नेताओं अनिल रावत और निर्मला रावत ने बताया कि वह लोग अकेले पार्टी नहीं छोड़ रहे हैं बल्कि बड़ी संख्या में दलित पार्टी को छोड़ रहे हैं | इन दलित नेताओं ने बताया कि वह लोग पन्द्रह साल से पार्टी की सेवा कर रहे हैं और बाराबंकी जनपद के साथ -साथ अन्य जनपदों में भी पार्टी का काम पूरी मेहनत और लगन के साथ किया है मगर आज तक उन्हें पार्टी में सम्मान नहीं मिला | उनका दलित होना भाजपा में अभिशाप के सामान है | इस लिए दुखी मन से वह लोग भाजपा छोड़ रहे हैं |

बाईट – निर्मला रावत ( जिला मंत्री भाजपा )

बाईट – अनिल रावत ( जिला मंत्री भाजपा )

रिपोर्टर सैफ मुख्तार